हर कोई जा सकेगा अब अयोध्या, सब को होंगे दर्शन योगी जी ने शुरू किया रामायण का पाठ

अयोध्या का मंदिर के दर्शन करना कौन नही चाहता
कोरोना काल ख़त्म होते ही उत्तर प्रदेश के हर नागरिक को अयोध्या में भगवान श्रीराम का दर्शन करने में सुगमता हो, इसके लिए योगी आदित्यनाथ की सरकार ने प्रयास शुरू कर दिए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार (अक्टूबर 30, 2020) को चित्रकूट में कहा कि राज्य के हर एक गाँव से अयोध्या में राम मंदिर के दर्शन के लिए व्यवस्था कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर कोरोना बीच में नहीं आता तो अभी तक लोगों को अयोध्या भेजने के लिए व्यवस्था हो चुकी होती। लेकिन अब भी वो कार्य पूरा किया जाएगा।

वाल्मीकि जयंती के अवसर पर चित्रकूट के लालापुर स्थित वाल्मीकि आश्रम पहुँचे योगी आदित्यनाथ जी ने लोगों से ये बातें कहीं। अपने कार्यकाल में 7वीं बार चित्रकूट पहुँचे योगी आदित्यनाथ पहले ऐसे मुख्यमंत्री हैं, जो पद पर रहते हुए इतनी बार यहाँ आए। सीएम ने कहा कि भारत के रामायणकालीन अति प्राचीन परंपरा के वाहक दो ऋषियों की जयंती है, जिनमें पहले वाल्मीकि जी, जिन्होंने भगवान राम से साक्षात्कार कराया है, और दूसरे हैं राष्ट्रऋषि नानाजी।

योगी जी दोनों को नमन करते हुए कहा कि जो धरती हजारों वर्षों से रामायणकालीन इतिहास को समेटे है, वो उसका दर्शन करना चाहते थे। रामायण के दौरान भगवान श्रीराम यहाँ आए थे और फिर यहीं से चित्रकूट के लिए प्रस्थान किया था। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर देव मंदिर में रामकथा का अखंड पाठ हो रहा है, जिससे महर्षि वाल्मीकि ने हमें साक्षात्कार कराया था और जिसे लेकर तुलसीदास घर-घर तक गए।

महर्षि वाल्मीकि की पूजा करने के बाद सीएम योगी पर्वत के शिखर में स्थित वाल्मीकि आश्रम पहुँचे, जहाँ उन्होंने अखंड रामायण पाठ का शुभारंभ किया। इसके बाद उन्होंने कुछ देर तक संतों के साथ बैठ कर चर्चा भी की। उन्होंने कहा कि नए डिफेंस कॉरिडोर के तहत अब चित्रकूट में तोपों का निर्माण होगा और महर्षि वाल्मीकि व तुलसीदास की भूमि दुश्मनों के दाँत खट्टे करेगी। उन्होंने चित्रकूट में हर घर पीने योग्य जल पहुँचाने का वादा भी किया।ऐसे ही बहुत ही कार्य किये।

शनिवार को गुजरात के केवड़िया में पीएम मोदी ने भी कहा कि सोमनाथ के पुनर्निर्माण से सरदार पटेल ने भारत के सांस्कृतिक गौरव को लौटाने का जो यज्ञ शुरू किया था, उसका विस्तार देश ने अयोध्या में भी देखा है। साथ ही उन्होंने इसे वर्तमान से जोड़ते हुए कहा कि आज देश राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का साक्षी बना है और भव्य राम मंदिर को बनते भी देख रहा है। PM मोदी ने सरदार पटेल की जयंती के अवसर पर वहाँ जाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। अब हर कोई दर्शन कर सकेगा राम मंदिर के।

आपको कैसी लगी जानकारी हमें कमेंट में जरूर बताये लाइक और शेयर करना न भूलें ऐसी ही नई नई जानकारी के लिए हमें फॉलो करें।

Leave a Reply

%d bloggers like this: